वायुसेना को मिला पहला राफेल विमान, नये एयर मार्शल के नाम पर रखा गया टेल नंबर RB-01

Indian Airforce को अपना पहला राफेल विमान (Rafale combat aircraft) मिल गया है। गुरुवार को वायुसेना ने फ्रांस में दसॉ एविएशन (Dassault Aviation) विनिर्माण सुविधा में पहला राफेल लड़ाकू विमान प्राप्त किया।

राफेल 

Indian Air force  को मिला पहला राफेल विमान, एयर मार्शल के नाम पर रखा गया टेल नंबर RB-01

Indian Airforce  के सूत्रों के मुताबिक गुरुवार को फ्रांस में दसॉ एविएशन (Dassault Aviation) ने वायुसेना को पहला राफेल विमान सौंपा।

Indian Airforce को अपना पहला राफेल विमान (Rafale combat aircraft) मिल गया है। गुरुवार को वायुसेना ने फ्रांस में दसॉ एविएशन (Dassault Aviation) विनिर्माण सुविधा में पहला राफेल लड़ाकू विमान प्राप्त किया। इस दौरान डेप्युटी चीफ एयर मार्शल वीआर चौधरी ने लगभग 1 घंटे राफेल में उड़ान भी भरी।

UPA सरकार में नहीं हो पाया ये सौदा 

UPA सरकार के दौरान इस पर समझौता नहीं हो पाया, क्योंकि खासकर टेक्नोलॉजी ट्रांसफर के मामले में दोनों पक्षों में गतिरोध बन गया था। इसके बाद साल 2014 में जब BJP सरकार सत्ता में आई तो उन्होंने इस दिशा में काम शुरू किया और इसके बाद पीएम मोदी की फ्रांस यात्रा के दौरान इस डील को साइन किया गया। 

नये एयर मार्शल के नाम पर रखा गया नाम

वायुसेना के सूत्रों ने ANI को बताया कि टेल नंबर RB-01 के साथ पहला विमान फ्रांस में एयर मार्शल वीआर चौधरी के नेतृत्व में भारतीय वायुसेना के अधिकारियों को सौंपा गया। टेल नंबर आरबी -01 का नाम भारतीय वायु सेना के प्रमुख एयर मार्शल आरकेएस भदौरिया के नाम पर रखा गया है, जिन्होंने देश के सबसे बड़े रक्षा सौदे को अंतिम रूप देने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

राफेल विमान को अब आधिकारिक तौर पर 8 अक्टूबर को Indian Airforce  में शामिल किया जाएगा। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहला भारतीय राफेल लड़ाकू विमान लेने के लिए 8 अक्टूबर को फ्रांस जाएंगे, लेकिन ये विमान मई, 2020 में ही भारत पहुंचना शुरू होंगे क्योंकि इनमें भारत की जरूरतों के मुताबिक हथियार प्रणालियां लगाई जानी हैं और पायलटों को ट्रेनिंग भी दी जानी है।

भारतीय पायलटों को पहले ही किया गया प्रशिक्षित

अभी तक भारतीय वायुसेना के पायलटों के एक छोटे बैच को पहले ही इन विमानों की ट्रेनिंग दी जा चुकी है, लेकिन वायुसेना मई, 2020 तक तीन बैचों में 24 और पायलटों को ट्रेनिंग प्रदान करेगी। सौदे के तहत भारत को 36 विमान मिलने हैं। वायुसेना इन विमानों की एक स्क्वाड्रन हरियाणा के अंबाला और दूसरी बंगाल की हाशिमारा में तैनात करेगी।

Source: Read Source (Internet) 

Take a look at these links 

आ गया कोस्ट गार्ड नाविक जीडी का नया फार्म, जानिए कटआंफ और परीक्षा की पूरी जानकारी।

ये है Navy MR का नया सिलेबस Syllabus | New Syllabus Subject, Topics

Free Coaching: Now students get the facility of free coaching for the preparation of competitive exam, Click here

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here